बबीना: कस्बे में कैन्ट वोर्ड द्वारा बनाए गये कचड़ा घरों के आस पास व पैशाव घरों मे चारो तरफ गंदगी ही गंदगी फैली हुई है। क्लीन बबीना ग्रीन बबीना का नारा लगाने वाले कैन्ट वोर्ड की यह हालत है। प्रधानमंत्री मोदी स्वच्छ भारत के लिये करोडो रूपये खर्च करके पूरे भारत को स्वच्छ बनाने मे लगे हैं, परन्तु कैन्ट वोर्ड उनके स्वच्छ भारत मिशन को ताक मे रखते हुये बबीना नगर में गंदगी हीे गदंगी फैली हुई है।

अभी हाल ही मे एक विशेष स्वच्छ अभियान चलाया गया था, जिसमे हर वार्ड मे साफ सफाई कराई गई थी। जिससे चारों तरफ साफ सफाई देखने को मिली थी, लेकिन जैसे ही स्वच्छ अभियान खत्म होते ही दुबारा गंदगी फैलने लगी। वही नगर के लोगों की लापरवाही से भी गंदगी फैल रही है। कैन्ट वोर्ड द्वारा कचडा डालने के लिये लाखो रूपये खर्च करके कचडा घर बनवाये गये हैं, लेकिन लोग कूड़ा कचडाघर में न डालकर अगल बगल फेंक देते हैं, जिससे गंदगी ही गंदगी फैल रही है। गंदगी से डेंगू तक का खतरा बढ़ गया है। वही नगर के सबसे प्रमुख पैशाव घरों मे से एक मैन रोड पर अभी हाली ही मे बने पैशाब घरों की हालत काफी खसता है। वहां चारों तरफ गंन्दगी ही गंन्दगी फैली हुई है। और वही अवैध तरीके से चारो और से पैशवघरों को घैरा हुआ है। लोगो को पैशाबघरों में जाने मे काफी दिक्कतो का सामना करना पड रहा है।

कई महीनों से साफ-सफाई नही की जा रही है। और कैन्ट वोर्ड द्वारा महिनों से साफ सफाई न होने के कारण गंभीर बीमारीयाॅ फैलने का खतरा बढ़ गया है। बबीना नगर में कैन्ट वोर्ड द्वारा लाखों रूपये खर्च करके कई पैशावघरों का निर्माण कराया गया है, परन्तु पैशावघर बनने के बाद उनकी साफ साफई और ध्यान नही दिया जाता है। नगर के लोगो ने बताया कि मैन रोड पर बने पैशावघरो मे पानी की टंकी रखाई गई थी, इनकी साफ सफाई के लिये, परन्तु आज तक इन टंकीयो में पानी नही भरा गया। पैशावघरों में लगी टोटियो में आज तक पानी नही आया वह सिर्फ सोपीस बनी है।

रिपोर्ट- गोविन्द यादव

1+

LEAVE A REPLY