महोबा- सूबे की सरकार रिश्वतखोरी पर लगाम लगाने की मंशा जाहिर कर चुकी है,लेकिन जिम्मेदार अधिकारी व कर्मचारी अपनी करतूतों से बाज नजर नही आ रहे है ! महोबा में ऐसा ही एक मामला देखने को मिला है! जिसमे खेत से मिट्टी ला रहे किसान से वन विभाग के कर्मचारी ने 10 हजार रूपर्य ऐठ लिये। कर्मचारी की यह करतूत कैमरे में कैद हुई है। तो वही किसान की बहन का आरोप है जब वह मौके पर पहुँची तो उसके साथ अभद्रता की गयी। इस मामले में भाई बहन न्याय के लिए अधिकारियों के चक्कर लगा रहे है।

मामला महोबा जनपद के कोतवाली कुलपहाड़ के ग्राम जैतपुर का है ! जहाँ रहने वाली सरोज यादव ने डीएम और एसपी को लिखित शिकायत देकर आरोप लगाया है कि उसका भाई सोनू कुछ दिन पूर्व खेत से मिट्टी लेकर ट्रैक्टर से आ रहा था,उसे अपने प्लाट में बने गढ्ढों को भरने के लिए मिट्टी की आवश्यकता थी । जब उसका भाई मिट्टी लेकर बिहार रोड से गुजरा तो प्राइवेट कार में सवार अजनर क्षेत्र के रेंजर ने ट्रैक्टर को रोक लिया ! जिसके बाद वन विभाग के अधिकारी मलखान सिंह यादव ने मुकदमे की धमकी देते हुए 10 हज़ार की मांग की। डरे सहमे सोनू ने कानूनी कार्यवाही के डर से मलखान नामक वन विभाग के कर्मचारी को 10 हज़ार रुपए दे दिये ! विभाग के कर्मचारी की यह करतूत एक व्यक्ति ने मोबाइल कैमरे में कैद कर ली ! आप साफ तौर पर देख सकते हैं कैसे कर्मचारी किसान से पैसे वसूल रहा है ! वही साथ मे अन्य लोग भी खड़े हैं ! दूर खड़ी स्कार्पियो कार में अजनर रेंजर भी सवार है ! वही पीड़िता सरोज का यह भी आरोप है कि जब वह सूचना पर मौके पर पहुँची तो विभाग के कर्मचारियों द्वारा उसके साथ अभद्रता भी की गई। उसने इस मामले की लिखित शिकायत वन विभाग और जिलाधिकारी महोबा से की है ! लेकिन अभी तक उसे न्याय नही मिला है। उसका कहना है यदि उसको न्याय नही मिला तो वो धरने पर बैठ जायेगी ! वही इस मामले में वन विभाग के अधिकारी कुछ भी कैमरे के सामने बोलने से बच रहे हैं।
बहरहाल मामले की क्या सच्चाई है यह तो जांच का विषय है लेकिन कैमरे में कैद वन विभाग के कर्मचारी की करतूत योगी सरकार के रिश्वत मुक्त दावे की पोल खोल रही है।

रिपोर्ट- इमामी ख़ान

0

LEAVE A REPLY