उरई: उरई पहुंची केन्द्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि राममंदिर निर्माण का मुद्दा विवादित मुद्दा है यह मामला सुप्रीम कोर्ट में है और सभी को सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इन्तेजार करना चाहिये। सुप्रीम कोर्ट में सभी की आस्था है और कोर्ट के द्वारा ही राम मंदिर मुद्दे का समाधान निकाला जा सकता है साथ ही अगर सरकार इस पर अध्यादेश लाती है तो वह अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं से बात करेंगे और तय करेंगे कि पार्टी का क्या निर्णय है। उसी के बाद वह अपना पक्ष रखेंगी। यह बात जालौन के उरई पहुंची अपना दल की नेता और केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल ने कही। केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल झांसी एक कार्यक्रम में शिरकत करने जा रही थी। झांसी जाने से पहले उन्होने जालौन के उरई में कार्यकर्ताओं से मुलाक़ात की। बाद में उन्होने पत्रकारों से बात की। सीएम योगी के हनुमान को दलित कहने के सवाल पर उन्होने कहा कि ये अनावश्यक बहस का मुद्दा है और इस मुद्दे को नहीं उठाना चाहिये। उन्होने कहा कि ईश्वर की न कोई जाति होती है न ही कोई धर्म होता है। ईश्वर सभी के आराध्य होते है सब वाले होते है।

रिपोर्ट – जालौन से शिवांग शुक्ला

 

0

LEAVE A REPLY