उरई : ग़ाज़ियाबाद जेल के अंदर मुन्ना बजरंगी की हत्या के बाद प्रदेश की सभी जेलों में निगरानी बढ़ा दी गई है। इसी क्रम में उरई जेल में भी जिलाधिकारी द्वारा निरीक्षण किया गया।
जालौन जिले के उरई मुख्यालय में जिला जेल उरई का डीएम डॉ मन्नान अख्तर, पुलिस अधीक्षक अमरेन्द्र प्रसाद सिंह ने भारी दल बल के साथ जिसमे 3 सीओ, 8 थानाध्यक्ष और 6 मजिस्ट्रेट के साथ मिलकर निरिक्षण किया गया। तकरीबन 2 घंटे तक डीएम व एसपी ने जेल के अन्दर बारीकी से निरिक्षण किया। आपको बता दें कि कुछ दिन पहले गाज़ियाबाद जेल के अंदर मुन्ना बजरंगी की हत्या से हडकंप मच गया था। जिसके बाद से प्रदेश में सभी जेल प्रशासन को सख्त हिदायत दी गयी थी और शासन की तरफ से जिलाधिकारी को जेल का निरिक्षण कर रिपोर्ट भेज कर अवगत कराने के लिए बोला गया था। जालौन डीएम डॉ मन्नान अख्तर ने मीडिया को बताया की निरिक्षण के दौरान जेल में ऐसी कोई अव्यवस्था देखने को नही मिली है जो बड़ी समस्या हो। छोटी मोटी कमियां जरुर हैं जिनको जेल अधीक्षक सीताराम शर्मा को दुरस्त करने के लिए बोल दिया गया है। जेल के अंदर कुछ आपतिजनक वस्तुए भी मिली है जिन्हें प्रशासन ने अपने कब्जे में ले लिया है और उस पर एक रिपोर्ट तैयार कराकर शासन को भेजी जा रही हैं।
रिपोर्ट – शिवांग शुक्ला

0

LEAVE A REPLY