वॉशिंगटन-। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि चीन ने उत्तर कोरिया को विश्व बिरादरी के साथ लाने के लिए कुछ भी नहीं किया। ट्रंप का यह बयान उत्तर कोरिया के बैलेस्टिक मिसाइल परीक्षण के बाद आया है। उत्तर कोरिया ने अमेरिका तक मार करने में सक्षम मिसाइल का शुक्रवार को दूसरी बार सफल परीक्षण किया था।
ट्रंप ने कहा कि अब वह उत्तर कोरिया को मनमानी करने के लिए ज्यादा मौका नहीं देंगे। अपने देश के पूर्व नेताओं को मूर्ख बताते हुए ट्रंप ने कहा कि उन्होंने हर साल चीन को व्यापार के नाम पर अरबों डॉलर दे दिए जबकि चीन ने अमेरिका के लिए उत्तर कोरिया के साथ कुछ भी नहीं किया। उस दौरान उत्तर कोरिया को लेकर केवल बातचीत हुई और कुछ नहीं हुआ। उत्तर कोरिया द्वारा तीन जुलाई और 28 जुलाई को अंतर महाद्वीपीय बैलेस्टिक मिसाइलों का जो सफल परीक्षण किया, उससे ही अमेरिका को खतरा पैदा हुआ है। बैलेस्टिक मिसाइल के अमेरिका तक पहुंचने का दावा किया जा रहा है। परमाणु हथियार संपन्न उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन अक्सर अमेरिका को ही अपना दुश्मन नंबर एक बताते रहे हैं।
उत्तर कोरिया ने रविवार को अमेरिका को चेतावनी दी। उत्तर कोरिया ने कहा कि अगर अमेरिका ने मौजूदा सैन्य नीति जारी रखी तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। साथ ही ये भी कहा कि प्योंगयांग के दूसरे अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल लांच के प्रतिक्रियास्वरूप कड़े प्रतिबंध लगाए तो इसका भी माकुल जवाब देंगे।

0

LEAVE A REPLY