नई दिल्ली : अफगानिस्तान के हेरात की एक मस्जिद में हुए आत्मघाती हमले में 29 लोगों की मौत हो गई साथ ही 63 लोग घायल हो गए। मंगलवार को एक हमलावर ने मस्जिद में घुस रहे नमाजियों पर गोलीबारी की और विस्फोटकों से खुद को उड़ा दिया।
प्रांतीय स्वास्थ्य विभाग के प्रवक्ता राफिक शिरजई के मुताबिक, शहर के अस्पतालों में 29 शव पड़े हुए हैं। इस घटना में 63 लोग घायल हुए है जिनमें से दर्जनभर की हालत गंभीर बनी हुई है। शिरजई ने कहा कि प्रशासन अभी यह पता लगाने का प्रयास कर रहा है कि इस हमले को अंजाम देने में कितने लोग शामिल थे। ईरान से लगने वाली अफगानिस्तानी सीमा के पास हेरात में जवादया मस्जिद पर यह हमला आईएसआईएस द्वारा कल काबुल में ईराकी दूतावास पर हुए हमले के एक दिन बाद हुआ है। मस्जिद पर हमले के बाद एक अस्पताल के प्रवक्ता डॉक्टर रफीक शीरजाई ने कहा, ‘‘अब तक 20 शव और 30 घायलों को अस्पताल लाया जा चुका है।’’ हेरात पुलिस के प्रवक्ता अब्दुल अहद वालीजादा ने कहा कि यह हमला स्थानीय समय के मुताबिक रात आठ बजे हुआ जब एक ‘‘हेरात शहर के तीसरे सुरक्षा जिले में एक (शिया) मस्जिद पर हमला किया गया’’। हेरात की जावादिया मस्जिद पर हमले की जिम्मेदारी तत्काल किसी ने नहीं ली है।गौरतलब है कि अफगानिस्तान में अल्पसंख्यक शिया समुदाय पर हमले आम हो चले हैं।

0

LEAVE A REPLY