मऊरानीपुर झांसी-   राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत जन जागरूकता शिविर का आयोजन सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मउरानीपुर पर आयोजित किया गया। जिसमें झांसी जिला अस्पताल से आये डॉक्टर काशीराम वरिष्ठ परामर्शदाता मनोचिकित्सक एवं सौरभ सिंह मनो सामाजिक कार्यकर्ता ने बताया कि मनोरोग अभिशाप नहीं मानसिक स्वास्थ्य एवं शारीरिक स्वास्थ्य एक दूसरे के पूरक हैं। इसके लक्षण, अनजान भय,  बार-बार बुरा होने का विचार आना ,अत्याधिक चिंताएं , तनाव ,जल्दी थकना ,हाथों में कंपन होना ,हड़बड़ी में रहना, अंधेरे में भी अकेले रहने से भय, नींद ना आना ,अधिक सपने आना, याददाश्त में कमी, मन में उत्साह में कमी , आदि मानसिक रोगों का उपचार व्यवहारिक तरीका एवं दवाओं से संभव है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मऊरानीपुर पर मानसिक रोगियों का उपचार किया गया ।तथा स्वास्थ्य केंद्र पर प्रत्येक माह के प्रथम गुरुवार को मानसिक स्वास्थ्य शिविर लगाया जाता है। इस मौके पर संजीव वर्मा ,एस के धमेंनिया ,लखन ,सूर्यकांत त्रिपाठी आदि मौजूद रहे।
1+

Users who have LIKED this post:

  • avatar

LEAVE A REPLY