मऊरानीपुर झांसी- मऊरानीपुर ब्लॉक में लगभग एक दर्जन सचिवों की नियुक्ति है लेकिन इक्का-दुक्का सचिवों को छोड़कर अधिकांश सचिव अपना निवास स्थान झांसी बनाए हुए हैं यह सप्ताह में केवल एक दिन ब्लॉक में होने वाली बैठक में भाग लेने के लिए आते हैं और ग्राम प्रधानों से सुविधा शुल्क वसूल कर वापस चले जाते हैं ऐसा कोई भी कार्य शेष नहीं है जिनमें इनका कमीशन ना हो। यही वजह है कि आज इन सब के पास वेतन से अधिक संपत्ति हो गई है इनकी संपत्ति की जांच यदि सरकार कराले तो सारी सच्चाई सामने आ जाएगी ब्लॉक परिसर में इनकी रहने के लिए शासन ने आवासों की व्यवस्था भी बनाई है मगर यह सब खाली पड़े रहते हैं यहां पर कोई नहीं रहता ग्रामीण अपने काम के चक्कर में बराबर इनके निवास व ब्लॉक कार्यालय के चक्कर लगाते रहते हैं पर इनके झांसी रहने की वजह से उनसे मुलाकात नहीं हो पाती ग्रामीणों ने उत्तर प्रदेश शासन से मांग की है कि मऊरानीपुर ब्लॉक में तैनात सचिवों का आवास मऊरानीपुर में ही बनाया जाए तथा इनके द्वारा एकत्र की गई संपत्ति की जांच कराई जाए।

 

 

रिपोर्ट रवि परिहार

0

LEAVE A REPLY